Product Description

किताब का नाम : भृगुनन्दन : भगवान परशुराम की यशोगाथा Bhrugunandan : Bhagwan Parshuram Ki Yashogatha
लेखक का नाम : डॉ. भारती सुदामे Dr. Bharti Sudame 
प्रकार : उपन्यास
मूल्य : 800 रु
पृष्ठ संख्या : 768
प्रथम संस्करण : 15 जनवरी 2019

जिनके हाथों में जगमगाता परशु है, जिनके बलवान कंधों पर धनुष शोभायमान है, क्रोध के कारण जिनकी आँँखों से चिंगारियाँँ बरस रही हैं और जो महापराक्रमी राजाओं को चुटकियों में परास्त कार सकते हैं ऐसी परशुराम की छबि हमारी आँँखों में बस गई है| 

‘रामयशोगाथा’ – पृ. १४४-१४५ से उद्धृत